प्राचीन काल में राजाओं को कुछ ऐसे लुभाया करती थी रानियाँ

प्राचीन समय ऐसा कुछ है जो अभी भी हमारे लिए रहस्यमय है. कोई भी नहीं जानता कि वास्तव में उन दिनों में क्या हुआ है कोई नहीं कह सकता कि कैसे राजा और रानी जीवित थे। हम केवल उन तथ्यों को साफ करने के लिए पौराणिक कथाओं पर निर्भर कर सकते हैं.

source

हमारे बड़े बूढ़े अक्सर हमें अपने समय की जीवन शैली के बारे में बताते हैं जैसे, वे कितने खूबसूरत दिखते थे और उनके समय में वातावरण कैसे मनमोहक और वातानुकूलित थे. परन्तु अब हमारे वातावरण में प्रदुषण है जिससे हम उम्र से जल्दी बूढ़े हो जाते है. पहले लोग आज की तुलना में अपना बहुत ख़याल रखते थे और यही कारण था कि वे 50 साल तक पहुंचने के बाद भी इतने युवा है.

किसी भी मामले में, आपने अपने दादी या बुजुर्गों को घर में यह कहते हुए सुना होगा कि मध्ययुगीन काल की रानी बेहद हर्षजनक थी. क्वींस की सुंदरता के बारे में अगर बात की जाए तो यह कहा जाता है कि चित्तौड़गढ़ के रानी पद्मावती इतनी सुन्दर थी कि एक मुस्लिम शासक अलाउद्दीन खिलजी ने उसे पाने के लिए चित्तौड़गढ़ पर हमला किया था.

यह माना जाता है कि क्वींस के सुन्दर शरीर और चेहरा था जिससे वह अपने राजा को मोहित करती थी. उस समय आज की तरह मेकअप तो नहीं होता था पर वह प्राकर्तिक चीज़ों से ही काफी खूबसूरत दिखती थी.

source

शाही वैद राजकुमारियों और क्वीन्स को युवाओं को देखने के लिए प्रभावी नुस्खे सुझाते थे, यहां तक ​​कि आप और हमारे जैसे सामान्य लोगों को भी हमारे दिन-प्रतिदिन जीवन में इन हैक्स का इस्तेमाल कर सकते हैं। वे इन हैक्स का उपयोग करके अपने शरीर का ख्याल रखना करते थे।

गुलाब जल स्नान

source

रानी अपने स्नान के पानी में गुलाब की पंखुली डाला करते थे। गुलाब की पंखुड़ियों ने उनकी त्वचा पर प्राकृतिक चमक प्राप्त करने में उन्हें मदद की. यह एक मखमल की तरह नरम त्वचा बनाता है जिससे राजाओं को भी पागल बना दिया।

अवोकेडो मास्क

source

उनके चेहरे से दाग़े और निशानों को हटाने के लिए, रानियां एवोकाडो फेसमास्क का इस्तेमाल किया करती थी इसके अलावा, एवोकैडो ने उन्हें कर्विक शरीर प्राप्त करने में मदद की

गुलाब इत्र

गुलाब इत्र त्वचा से रूखापन हटाने के लिए जाना जाता है। इसकी खुशबि ऐसी थी जो राजाओं को उनकी रानियों की तरफ खींचती थी.

Comments

comments