6 साल की उम्र में किया विस्फोट और 18 साल की उम्र में देश के लिए शहीद हो गए ये क्रांतिकारी

बहुत सालो तक अंग्रेज़ो की गुलामी करने के बाद हमारा देश 15 अगस्त 1947 को आज़ाद हो गया. हर साल उसी आज़ादी को मानाने के लिए और अपने स्वतंत्र सैलानियों को याद करने के लिए यह दिन हर साल मनाया… Continue Reading