महिला साड़ी पहन कर बाजार निकली पर साड़ी में कुछ ऐसा था की लोग देखते ही रह गए

साड़ी भारत में सबसे ज़्यादा पहने जाने वाला परिधान है. यह एक ऐसा परिधान है जो की हर औरत पर जचता है. औरते हमेशा कोशिश करती है की वह कुछ अलग तरीके की साड़ी पहने जो की सबसे अलग हो. वह समय समय पर अपनी साड़ी के साथ एक्सपेरिमेंट करती रहती है.

source

चाहे उसे बांधने का तरीका हो या फिर उसका प्रिंट. लोग कभी पूरी साड़ी में अपना नाम छपवा लेते है कभी स्वतन्ता दिवस के समय पर देश का झंडा छपवा लेते है कभी गणेश चतुर्थी के समय गणेश जी की तस्वीर छपवा लेते है.

एक औरत ने भी कुछ ऐसी हे कोशिश करी. उन्होंने अपने साड़ी में पुराने बंद हुए 500 के और 1000 के नोट प्रिंट करवा लिए. पिछले साल 500 और 1000 के पुराने नोट बंद हो गए थे. लोगो को अपने नोट बैंक में जमा करने पढ़े थे.

source

नोटबंदी के बाद हमेशा के लिए पुराने नोटों को अपनी यादों में रखने के लिए लोगो ने अलग अलग तरीके निकाले. कुछ लोगो ने अपने नोटों की फोटो खींच कर रख ली और कुछ ने अपने कपड़ो में प्रिंट करवा लिया.

source

ऐसा करने वाली महिला का नाम वंशिका चौधरी है. वंशिका बिरला गाँव की है. उनका अपना बुटीक है जिसे वह खुद चलती है. नोटेबंदी के बाद वंशिका के दिमाग में एक अनोखा आईडिया आया. उन्होंने नोटों को अपनी साड़ी में प्रिंट करने का सोचा जिससे की वह हमेशा के लिए यादगार बन जाए.

source

उन्होंने 500 और 1000 की छपाई वाले नोट वाली साड़ियाँ तैयार कर ली. यह साड़ी दूसरी साड़ियों से काफी अलग थी. उनकी इस साड़ी ने बहुत तारीफे बटोरी. इतना अलग डिज़ाइन होने के कारण वंशिका को काफी ऐसी साड़ियां बनाने के आर्डर भी मिले और थोड़े दिन में ही ऐसी साड़ियां ट्रेंड में आ गयी.

Comments

comments