इस अभिनेता की मौत के वक़्त भी बॉलीवुड को इनकी याद नहीं आयी

बॉलीवुड के अभिनेता गेविन पैकार्ड आइरिस मूल के थे। गेविन ने कई फिल्मों में नेगेटिव रोल निभाए थे। गेविन ने बॉलीवुड में 90 के दशक में कई सारी फिल्मों में नाकारात्मक भूमिका निभाई थी। गेविन ने ‘मोहरा’, ‘तड़ीपार’, ‘चमत्कार’ यह सब फिल्में की थी। गेविन ने 1989 में दूरदर्शन पर जो इंद्रधनुष में भी काम किया था।

बता दें कि गेविन पैकार्ड का जन्म 8 जून 1964 को कल्याण महाराष्ट्र में हुआ था। गेविन अपने पांच भाई-बहनों में से सबसे बड़े थे। गेविन के पिता कंप्यूटर विशेषज्ञ थे। गेविन के दादा जॉन पैकार्ड एक आयरिश अमेरिकी थे और वह बैंगलोर में अमेरिकी सेना के सदस्य के रूप में भारत आए थे।

उसके बाद गेविन के दादा को भारत पंसद आ गया और उन्होंने भारत में ही रहने का फैसला किया था। आपको बता दें कि गेविन ने बॉडीबिल्डर में नेशनल अवार्ड भी जीता था। गेविन बॉलीवुड के एक्टर्स संजय दत्त, सुनील शट्टï और सलमान खान के ट्रेनर भी थे। गेविन ने पहली मलयालम फिल्म आर्यन की थी। उस फिल्म में गेविन ने मार्टिन की भूमिका निभाई थी।

गेविन ने बॉलीवुड में डेब्यू 1989 में आर्ई फिल्म ‘इलाका’ से किया था। उसी साल गेविन ने मलयालम फिल्म सीजन की थी। उस फिल्म में गेविन ने फेबियन का किरदार निभाया था। यह किरदार सबसे अच्छा था उनकी सारी फिल्मों में से। गेविन की आखिरी फिल्म डेविड धवन की फिल्म ‘ये है जलवा थी’ जो 2002 में आर्ई थी।

बता दें कि गेविन ने अपने 15 साल के फिल्मी कैरियर में लगभग 60 फिल्में की थी। गेविन ने अपनी पत्नी से तलाक ले लिया था और अपने आखिरी के दिनों में वह अपने छोटे भाई डेरिल के साथ रहते थे।

गेविन की 18 मई 2012 को सांस की बीमारी के चलते उनकी मौत हो गई थी। अगले दिन उनका अंतिम संस्कार किया गया। दुःख की बात ये रही कि उनके लंबे और उल्लेखनीय सिनेमाई करियर के बावजूद बॉलीवुड से कोई भी सितारा उनके अंतिम संस्कार में उपस्थित नहीं हुआ।

Comments

comments