विश्व के सबसे बड़े झूठ जो हमें स्कूल में पढाये गए थे और जिनपर हम आज भी विश्वास कर रहे है

स्कूल एक ऐसी जगह है जहाँ हम अपने ज़िन्दगी के 12 साल लगा दी है. यहाँ हम बचपन में दाखिला लेते है जब हमें ढंग से बोलना भी नहीं आता था और जब यहाँ से निकलते है तब हम बड़ी बड़ी चुनोतिया का सामना करने के काबिल बनके निकलते हैं. हम मानते हैं की जो जो हमारे टीचर्स ने बचपन ने हमें बताया था वह सब 100 प्रतिशत सही था.

जितना हमें गूगल में भी विश्वास नहीं होता उतना हमें अपनी किताबो में था. पर क्या आपको ता है की स्कूल में हमनें कुछ ऐसी बातें भी पढ़ी है जो एक दम झूठी है.

आइंस्टीन गणित में फेल हो गए थे

source

आइंस्टाइन गणित में कभी फेल हो गए थे जबकि सच यह है की जब वह 11 वि कक्षा में थे तब वो महाविद्यालय की किताबे पड़ते थे

गिरगिट छिपने के लिए अपना रंग बदलता है

source

यह हम सबने बचपन से हे पढ़ा है की गिरगिट छिपने के लिए अपने आस पास के वातावरण के अनुसार अपना रंग बदल लेता है. पर असल में ऐसा नहीं है. गिरगिट अपने शरीर के तापमान को एडजस्ट करने के लिए रंग बदलता है.

कॉलम्बस ने बताया पृथ्वी गोल है

source

कोलम्बस केवल एक सुमद्रि नाविक था इस बात पता ग्रीस की 2000 साल पुरानी कीताबो में पृथ्वी गोल होने का वर्णन मिलता है।

 जीभ के अलग अलग भाग में होते है अलग अलग टेस्ट बड्स

source

हमने छोटे में पढ़ा था की हमारी जीभ में अलग अलग हिस्से में अलग अलग टेस्ट बड्स होते है जिससे हमें खट्टा मीठा और तीखे के बारे में पता चलता है. पर ऐसा नहीं है. हमारी पूरी जीभ एक जैसी ही है. पूरी जीभ में एक जैसे स्वाद ही चैक होता है.

चीन की दिवार

source

हमने पढ़ा था चीन की ग्रेट वाल ऑफ़ चीन इतनी बड़ी है की वह अंतरिक्ष में से भी दिखाई देती है किन्तु नासा ने बताया था की अंतरिक्ष से कुछ नही दिखाई देता है यह एक फ़ोटो एडिटिंग कर फैलाया गयी अफवाह थी.

थॉमस एडिसन ने खोज की थी लाइट बल्ब की

source

हमने पढ़ा है की थॉमस एडिसन वो इंसान थे जिन्होंने लाइट बल्ब की खोज करि थी. पर ऐसा नहीं है. उन्होंने लाइट बल्ब बनाने वाली की विधवा से उसका पेटेंट ख़रीदा था.

वैन गौघ ने खुद काटे अपने कान

source

काफी लोग मानते है की वैन गौघ ने खुद अपने कान काटकर अपनी प्रेमिका को भेजे थे. पर ऐसा नहीं है. बल्कि उनके कान उनके साथी पेंटर ने उनसे लड़ाई के समय काट दिए थे.

Comments

comments