भारतीय सेना रिटायरमेंट के बाद वफादार कुत्तों को इसलिए मार देती है गोली

भारतीय सेना रिटायरमेंट के बाद वफादार कुत्तों को इसलिए मार देती है गोली

वफादारी की अगर बात करे तो हम सभी जानते हैं की हर कोई कुत्तो का ही नाम लेगा क्यूंकि बेजुबान होने बावजूद भी कुत्ता अपने मालिक का साथ नहीं छोड़ता हैं |पर अगर वो ही वफादार अगर आप की मुसीबत का कारण बन जाए तो उस दौरान आप क्या करेंगे |जी हाँ आज हम बात कर रहे हैं भारतीय सेना की |आप को बता दे की भारतीय सेना में जिस कुत्ते का भी रिटायरमेंट होता हैं तब उसे सेना के ही लोग गोली मार कर हत्या कर देते हैं |

आप घबराइए मत ऐसा करने के पीछे भी बहुत बड़ा राज छुपा हैं |तो आज हम आप को बताएंगे भारतीय सेना का ऐसे करने का कारण |

आखिर क्यों मारते हैं रिटायर कुत्तो को

कुत्तों को रिटायरमेंट के बाद मारे जाने को लेकर एक व्यक्ति ने आरटीआई के जरिए जब जवाब मांगा, तब पता चला कि इसके पीछे सिक्योरिटी रीजन्स है।आर्मी का मानना है कि रिटायरमेंट के बाद कुत्ता कहीं किसी ऐसे आदमी को ना मिल जाए जिससे देश को हानि हो। दरअसल कुत्ते को आर्मी के हर गुप्त स्थान के बारे में पता होता है।

एक ये कारण भी हैं ऐसा करने का

इन सब के अलावा आर्मी ने ये बात भी बताई की अगर कुत्ते बीमार भी होते हैं तो उस दौरान उनका अचे ढंग से ट्रीटमेंट भी करवाया जाता हैं लेकिन उसके बाद अगर कोई कुत्ता ठीक नहीं होता हैं तो उसे मार दिया जाता हैं |

एक साल उठता हैं

आप को मालूम ही हैं के भली ही ये कुत्ते बेजुबान हो पर इनके अंदर भी जान तो होती ही हैं |सेना के पास इतना फण्ड तो होता ही हैं की वे इन कुत्तो का अच्छे से देखभाल कर सके क्यूंकि ये कुत्ते भी अपने देश के लिए ही काम कर रहे हैं |

source

Comments

comments