क्या आप जानते हैं इस फीडगेट स्पिनर को बनाने का असली मकसद? इस काम आता है ये

इंटरनेट की दुनिया भी कमाल की है. जिसे चाहे, जिस चीज़ को चाहे मशहूर करने में सेकण्ड्स की देरी भी नहीं लगाती. अब यूँ तो फिजेट स्पिनर है तो एक खिलौने जैसा ही पर अब ये भी इंटरनेट पर एक ट्रेंड बन चूका है.

आज जिसके पास स्पिनर नहीं वो कूल नहीं. अब सभी इसे अपने दोस्तों को दिखाकर उन्हें इम्प्रेस करने में लगे रहते हैं. ये कई तरह के डिज़ाइन और लाइट्स के साथ भी आपको मार्किट में मिल जाएगा.

आजकल फिजेट स्पिनर का इंटरनेट और मार्किट में बहुत क्रेज चल रहा है. आप जहाँ में देखेंगे आपको बच्चे यहाँ तक की बड़े भी इसे घूमते हुए नज़र आ जाएंगे.

आपने ये तो सुना ही होगा की फिजेट स्पिनर स्ट्रेस को काम करने में काम अत है. इसे बेचने वाली वेबसाइट ये दवा कर रही है की ये चिंता मिटा देता है और इससे एकाग्रता बढ़ती है.

मगर किसी भी बात पर आँख बंद करके विश्वास करने से पहले पूरी बात जान लेनी चाहिए. आज हम आपको बताएँगे इस स्पिनर के बारे में पूरी बात.

हम आपके सामने इस स्पिनर के बारे में सरे राज़ खोलने जा रहे हैं. आपको बता दे की इससे कोई चिंता या स्ट्रेस कम नही होता है. इस बारे ना तो कोई रिसर्च हुई है ना ही किसी भी डॉक्टर ने इसकी पुष्टि की है. ये सिर्फ इसे बेचने के लिए कंपनी ने नए पैंतरे अपनाये हैं.

एक टॉय वो भी इतना क्यूट और कूल जिससे स्ट्रेस भी रेलिएवे हो सकता है और इसे बस आपको घूमना है ज़ाहिर सी बात है की कोई भी इन चीज़ों को सुनकर उत्साहित हो ही जायेगा.

कई विदेश संकुलों ने तो इसे बन भी कर दिया है. उनका कहना है की इससे एकाग्रता बढ़ती नही बल्कि कम होती है. अगर विज्ञान की मानें तो एकाग्रता के लिए शारीरिक हलचल और खेल कूद की ज़रूरत होती है, किसी स्पिनर की नही.

इसलिए इस फिजेट स्पिनर को लेकर जितने भी दावे किये जा रहे हैं वो सब बेबुनियादी है.

अगर आपको ये लेख पसंद आय तो इसे लाईक और शेयर करना ना भूलें.

Comments

comments