जानिये सड़क किनारे लगे हुए इन मील के पत्थरों का असली मतलब

आपने अक्सर अपने दोस्तों गर्लफ्रेंड या परिवार के साथ लॉन्ग ड्राइव का मज़ा लिया ही होगा. शहर के शोरगुल से दूर साफ सुथरी चौड़ी सड़क पर लॉन्ग ड्राइव का अपना ही मजा है. सफर चाहे कार में हो या बाइक पर सुहाने मौसम में लॉन्ग ड्राइव पर जाने का मज़ा ही कुछ और है.

ऐसे ही सफरों के दौरान क्या आपने अपने आस पास लगे रोड में मिलेस्तोनेस पर कभी ध्यान दिया है? अगर आपकी नज़र कभी इन मिलेस्तोनेस पर गई होगी तो आपने नोटिस किया होगा की इन पत्थरों के ऊपर कुछ लिखा भी होता है.

आइए जानिए इन मील के पत्‍थरों के बारे में कुछ फैक्ट्स जिनके बारे में जानने से आप अभी तक महरूम रहे.

1. पीले रंग का माइलस्टोन

जब आप ड्राइव कर रहे हो और आपको सड़क के किनारे इस कलर का कोई माइलस्टोन नज़र आये तो जान लीजिये की आप किसी नेशनल हाईवे पर चल रहे हैं। जानने वाली बात यह है की पीले रंग का माइलस्टोन भारत में सिर्फ नेशनल हाईवेज पर ही लगाए जाते हैं.

2. हरे रंग का माइलस्टोन

जब माइलस्टोन क ऊपर वाला हिस्सा हरे रंग का हो तो इसका मतलब ये है की आप नेशनल हाईवे नहीं बल्कि स्टेट हाईवे की तरफ सफर कर रहे हैं. भारत में किसी स्टेट द्वारा लगाई गई मिलेस्तोनेस को हरे रंग में ही रंगा जाता है और इन पर सिर्फ राज्य सर्कार का कण्ट्रोल होता है.

3. काले रंग का माइलस्टोन

अगर आपको कहीं जाते वक़्त रास्ते पर काली पट्टी वाला माइलस्टोन दिखे तो समझ लीजिये की आप किसी बड़े शहर या ज़िले की तरफ प्रस्थान कर चुके हैं. साथ ही वह रोड आने वाले जिले के नियंत्रण में आती है.

ये मिलेस्तोनेस आने वाले ज़िले या शहर के प्रशासन के अंदर ही आता है. इसके अलावा कई जगहों पर शहरी सीमा में आने वाली सड़कों के किनारे पूरी तरह सफेद रंग वाले माइलस्टोन भी लगे होते हैं।

4. नारंगी रंग के माइलस्टोन

अगर आपको नारंगी पट्टी वाला माइलस्टोन दिखे तो जान लीजिये की आप ग्रामीण इलाकों में पहुंचने वाले हैं. ये ‘प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना’ के अंतर्गत बनाये गए हैं.

अगर आपको ये लेख पसंद आया तो इसे लाईक और शेयर करना ना भूलें.

Comments

comments