मरुस्थल के बीच बसे इस गांव को देखकर आप दंग रह जाएंगे, खूबसूरती ऐसी कि छोड़ने को जी न करे

अगर हम मरुस्थल का नाम ले तो आपके दिमाग में सबसे पहले क्या आएगा. रेत के टीले तेज हवाएं और दूर दूर तक जीवन का कोई नामोनिशान नहीं. लेकिन कुदरत में अजीबोगरीब करिश्मे कर दिखने की ताकत रखती है. कुदरत वह चीज़ है जो ऐसी जगहों पर भी अपना सौंदर्य बिखेर देती है जहा हम कल्पना भी नहीं कर सकते.

ऐसा ही कुदरत का करिश्मा देखने को मिलता है मरुस्थल के इस गांव में. चचे आप इसे इस गांव के लोगों की म्हणत कहें या कुदरत का करिश्मा पर ये तो पक्का है की आप इस गांव को देखकर इसकी तारीफ किये बिना रह नहीं पाएंगे. अगर आप एक बार इस गांव में आ गए तो आपको यहाँ से जाने का दिल ही नहीं करेगा.

दक्षिण पश्चिम पेरू में आईसीए सिटी के पास एक बहुत खूबसूरत गाँव बसा हुआ है जिसका नाम है हुआकाचिना. आपकी जहाँ तक नज़र जाएगी आपको बस रेत ही देखने को मिलेगी. ये सभी तरफ से रेगिस्तान से घिरा हुआ है.

रेत के टीलों के बीच बसे इस गाँव की खूबसूरती का कोई जवाब नहीं. यहाँ दूर दूर से हर साल लाखों पर्यटक घूमने और छुट्टियां मानाने आते हैं. यहाँ पर्यटकों का मेला लगा रहता है.

इस गाँव में मात्र 96 लोगों का परिवार रहता है. यहाँ सिर्फ एक प्राकृतिक झील है जिसके दम पर इस गाँव का अद्भुत सौंदर्य कायम है. लोग तो यहाँ तक भी कहते हैं की इस गाँव की झील में औषधीय गुण है और इसमें बीमारियों को दूर करने की क्षमता है.

शहर की दौड़ भरी ज़िन्दगी से दूर यहाँ आये पर्यटकों को असीम मानसिक शान्ति का अहसास होता है. यहाँ उनकी सुविधा के लिए होटल रिसोर्ट आदि सब कुछ हैं.

रात के समय तो हुआकाचिना की खूबसूरती में चार चाँद लग जाते हैं. यहाँ रौशनी ऐसी खिलती है की ये कोई जादुई नगरी से काम नहीं लगता.

अगर आपको ये लेख पसंद आया तो इसे लाईक और शेयर करना ना भूलें.

Comments

comments