ये आदमी अभी तक पकड़ चुका है 100 किंग कोबरा और 3000 सांप, तसवीरें देखकर आप डर जायेंगे

कुछ लोग शिकार करते हैं दुसरो को अपने अआप्को साक्षी दिखने के लिए कुछ मस्ती के लिए करते हैं कुछ अपनी इच्छाओं को तृप्त करने के लिए. लेकिन कुछ ऐसे भी लोग होते हैं जो इनका शिकार करने की बजाये इनका इलाज करते हैं और इन्हे जाने देते हैं और कुछ ऐसे भी होते हैं जो इन साँपों से लोगों को बचने का काम भी करते हैं.

ऐसे ही कुछ लोगों में शुमार है इस स्नेक मैन का नाम. हाँ अपने सही सुना ये है एक स्नेक मैन. यदि आपके सामने कोई सांप का नाम भी ले लेता है तो आप सेहम जाते है थोड़ी सी देर के लिए आपकी धड़कने रुक सी जाती हैं. लेकिन ये इंसान हम सब से बिलकुल अलग है. इसे खतरों से खेलना बेहद पसंद है और इसका सब बड़ा शौक है अलग अलग साँपों को पकड़ना.

ये शौक भले ही हम सभी को अजीब सा लगे लेकिन ये काम तो साहस का है. सांप के एक डंक से ही इंसान की मृत्यु तक हो जाती है और वो देखने में ही इतने डरावने होने हैं की हम अपने होश खो बैठते हैं. आज हम आपको इस स्नेक मैन के बारे में सब कुछ बताएँगे.

इस आदमी का असली नाम वावा सुरेश है. वावा सुरेश तिरुवनंतपुरम से तालुक रखते हैं. उन्होंने महज़ साल की उम्र से ह सांप पकड़ने का काम शुरू कर दिया था और आज उनकी उम्र साल हो चली है. वावा इसे अपनी जॉब से ज़्यादा अपने शौक की तरह कर रहे हैं. इस काम के लिए उन्होंने सर्कार द्वारा ऑफर की गयी जॉब तक ठुकरा दी और अपने स्तर पर ही काम करने का फैसला किया.

उनका मानना है की अगर वो सरकारी नौकरी में लग जाते तो सोशल सर्विस नही दे पाते. दरअसल वावा आज लोगो को सांपो से बचाते है और किसी हीरो से काम नहीं है. ऐसे जानलेवा ज़हरीले जानवरों के बीच काम करना ही बहुत बड़ी बात है.

अपने इतने लम्बे कार्यकाल में उन्होंने अब तक बड़े बड़े वाईपर किंग कोबरा और नार्मल सांप भी पकडे है. खतरों से खेलना उनकी हॉबी है. अपने काम के बीच साँपों ने सुरेश को कई बार दसा भी लेकिन उन्होंने अपना ये पेशा कभी नहीं छोड़ा.

आज सुरेश इतने पॉपुलर होगये हैं की अगर किसी को सांप दीखता है तो वो सबसे पहले सुरेश को ही बुलाता है. सुरेश सांप को उस इंसानी इलाके से रेस्क्यू करके कही सुरक्षित जगह छोड़ देता हैं. आप बता दे की अभी तक सुरेश के नाम पर ३ हजार मामूली सांप पकड़ने का और १०० से भी ज्यादा किंग कोबरा प्रजाति के खतरनाक सांपों को पकड़ने का रिकॉर्ड है.

Comments

comments