एक से ज्यादा बैंक में अकाउंट खोलने के है भयानक नुक्सान जानकर हैरान हो जायेंगे आप..

आज के ज़माने में तो सारे काम बैंक से ही हो जाते हैं इसीलिए आजकल हर जगह बैंक खुल हए हैं अब तो बाजार में खूब सारे बैंक्स है जिनमे 10 से ज्यादा तो नेशनल लेवल के सभी सुविधाओं से परिपूर्ण बैंक भी देखने में आ जाते है और इन बैंको में कोई 1 खाता खुलवाता है तो कोई 2 और कुछ लोग तो 2 से भी ज्यादा दरअसल बैंक में ज्यादा खाता होने से लेनदेन में आसानी होती है और इसीलिए लोग ज्यादे कहते खुलवाते भी हैं ताकि इससे आपको सुविधा का पूरा लाभ मिल सके मगर क्या आपको पता भी है की आपके ऐसा करने से पूरे साल भर में आपका कितने का नुक्सान हो जाता है आइये आपको विस्तार में बताते हैं |

1. बैंक एकाउंट्स

चलो मान लीजिये की आपके पास 5 बैंक के अकाउंट है तो आपको पांचो में अपना मिनिमम बैलेंस तो मेन्टेन करके रखना ही पड़ेगा जो की लगभग एक का 10 हज़ार होगा और कुल मिलके 50000 हज़ार मतलब आप इस पैसे को कहीं भी इस्तेमाल नहीं कर सकते और अगर आप इसे मेन्टेन करने में असमर्थ हुए तो ये पैसा भी हाथ से चला जायेगा और आपको इसका नुकसान झेलना पड़ेगा |

2. बैंक में काम करते कर्मचारी

source

और वैसे भी अगर आप अपना अमाउंट मेन्टेन नहीं कर पाओगे तो बैंक आप पर पेनल्टी भी लगा सकता है जिससे आपको और टेंशन हो जाएगी और साथ में सालाना 4 % मिलने वाला ब्याज से भी अनजान रहते हो और इसके अलावा आपो अन्य बैंक चार्जेज का भी भुगतान करना अनिवार्य होगा जैसे की आपके पास पांच खाते हैं तो पांच डेबिट कार्ड और पांच क्रेडिट कार्ड भी होंगे और इनको मेन्टेन रखने के लिए कुछ पैसा चुकाना होगा |

3. स्वाइप मशीन

source

और जब लास्ट में आपको फ़ाइल करना होगा तब भी यही हाल होगा आपके कागज में दुविधाए बढ़ जायेगी क्योंकि ज्यादा खाते होने से कागजी काम भी बढ़ जाता है और इसमें दिमाग बहुत लगाना पड़ता है इसिलए बढ़िया है की बैंक में एक या दो ही खाते हो |

अगर आपको हमारा ये पोस्ट पसन्द आया तो कृपया कमेंट और शेयर करना न भूलें धन्यवाद |

Comments

comments