ज़िन्दगी के वह 4 झूठ जिनपे आप आज भी यकीन करते हो

हमारा समाज समय के साथ-साथ बदलता रहता है. लेकिन जो पुरानीं मान्यताएं हैं वो आज भी आपके दिमाग में बैठी हुई है. ऐसी कुछ चीज़े है जो असल में झूठ है लेकिन हम फिर भी इस चीज़ को सच मानते है. बैग से लेकर ममी की वो बात की बेटा तुम्हें सर्दी है ठंडा पानी मत पीओ. ये सब ऐसे झूठ हैं जिसके पीछे का विज्ञानं आपको जानने की जरुरत है.

source

source

आज में आपको बताने जा रहा हु ज़िन्दगी के वह सफेद झूठ जो सालो से हम सभी लोग सुनते आ रहे है लेकिन साइंटिफिक के हिसाब से इनका दूर दूर तक कोई भी सम्भंद नहीं है.

source

जब आपको सर्दी या झुकाम होता है तो आपकी माँ आपको ठंडा पानी पिने से या फिर बाल भिगाने से मना करती है , या जब आप आइसक्रीम खाते है तो तब भी ऐसा ही कहा जाता है. लेकिन असल में सर्दी खासी और ठंडे का दूर दूर तक कोई संभंद नहीं है. दरअसल सर्दी खासी एक वायरल इन्फेक्शन डिजीज है जो आपको आपके आस पास के लोगो से फैलता है. जब कोई आपके आस पास छींकता है या खास्ता है तब यह फैलता है न की ठंडा पानी पीने से.

source

टीवी देखने से आंखे ख़राब होती है यह हम सब बचपन से सुनते आ रहे है लेकिन यह सच नहीं है. दरअसल ऐसा आपके जीन्स की वजह से होता है की आप कैसे होंगे कितने मोठे होंगे या आप कैसे चलोगे वैसी ही आँखों का भी सिस्टम जीन्स से है की किस उम्र में आपकी आँखों की रौशनी काम हो जाएगी. अगर आपके जीन्स बहुत ताकतवर है जो आप चाहे कितनी भी टीवी , मोबाइल में दिन भर लगे रहेंगे तो तब भी आपकी आंख ख़राब नहीं होंगी.

source

आज के समय के सबसे बड़ा झूठ है मोबाइल फ़ोन की बैटरी. जैसे की सभी लोग कहते है की मोबाइल जब 10 या 20 प्रतिशत हो तभी चार्ज करना वरना बैटरी ख़राब हो जाती है लेकिन असल में ऐसा कुछ नहीं होता. आप कभी भी अपने मोबाइल को चार्ज कर सकते है. दरअसल ऐसी प्रॉब्लम पहले के ज़माने के मोबाइल में होती थी लेकिन आजकल के स्मार्टफोन के साथ ऐसी कोई भी प्रॉब्लम नहीं है.

source

आज का सबसे इम्पोर्टेन्ट बात है हमारा बैग टांगना. दरअसल आप जो स्कुल बैग या कोई भी डेली यूज़ में पीठ के पीछे बैग टांगता है वह असल में हमारे लिए बहुत हानिकारक है. साइंटिफिक रिसर्च में यह पता चला है की जो लोग बचपन से ही रोज भारी मात्रा में बैग का वजन उठाते है उनकी हाइट दरअसल कम होती है. असल में जब हम भारी मात्रा में बैग टांगते है तो हमारे रिड की हड्डी कंप्रेस हो जाती है और मुद जाती है और इसी वजह से यह होता है.

Comments

comments